दिल्ली में किसानों पर लाठीजार्च यानी केंद्र की किसान हितैशी होने की खुली पोल, कैसे यहां पढ़ें

शायद इसे ही ‘आ बैल मुझे मार’ और ‘उंट पर कुत्ता काटना’ कहते हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने अनेक निर्णयों एवं घोषणाओं से पिछले पांच-छह महीने से यह साबित करने को आमादा हैं कि उनकी सरकार किसान हितैशी है। वे 2022-24 तक देश के किसानों की आमदनी दोगुना होते देखना चाहते हैं। मगर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री की जयंती के दिन दिल्ली पुलिस द्वारा उत्तर प्रदेश के बॉर्डर पर किसानांे पर जिस तरह लाठियां,आंसू गैस के गोले और पानी की बौछाकर की गई उससे मोदी…

Read More