राहुल का मजाक उड़ाने के चक्कर में धुंधलाया मोदी का किसान हितैशी चेहरा….कैसे….यहां पढ़ें

‘‘ अविश्वास प्रस्ताव की वजह पूछी तो गले ही पड़ गए।’’उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर में योगी सरकार की ओर से आयोजित ‘किसान कल्याण रैली’ में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण का यह अंश दरअसल, उस संदर्भ में है जब लोकसभा में अविश्वास प्रस्ताव के दौरान केंद्र को खरी-खरी सुनाने के बाद एक बहाने से’ अपनी सीट से उठकर मोदी से गले मिलने पहुंच गए थे। राहुल की इस हरकत पर लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने ऐतराज जताया है और भारतीय जनता पार्टी इसका लगातार मजाक उड़ा रही है। असल में,…

Read More

अफ्रीकी देश रवांडा के मॉडल गांव रवेरू की शोभा बढ़ाएंगी भारत की गायें…कैसे यहां जानें

अफ्रीकी देश रवांडा के मॉडल गांव रवेरू की भारत की देशी नस्ल की 200 गायें शोभा बढ़ाएंगे। इन गायों को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद रवांडा सरकार को भेंट करेंगे। मोदी 23 से 27 जुलाई तक रवांडा , युगांडा और दक्षिण अफ्रीका की यात्रा पर हैंे । इस दौरान उनका रवांडा सरकार को भारतीय नस्ल की गायें भेंट करने का कार्यक्रम है। प्रधानमंत्री मोदी दक्षिण अफ्रीका की यात्रा के दौरान ब्रिक्स सम्मेलन में भी हिस्सा लेंगे जिसमें अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा समेत कई वैश्विक महत्व के मुद्दों पर चर्चा होने का…

Read More

किसानों की आय दोगुना करने की केंद्र सरकार की योजना में आमजन भी शामिल …कैसे…यहां पढ़ें

केंद्र सरकार ने वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुना करने का लक्ष्य रखा है। इसेे पाने के लिए कई तरह की योजनाओं पर काम किया जा रहा है। इसके साथ इस लक्ष्य को प्राप्त करने की खातिर अब योजना में आम लोग भी शामिल कर लिए गए हैं। किसानों की आमदनी कैसे दोगुनी हो, इस सवाल का हल ढूंढने के लिए जनता से राय मांगी जा रही है। कृषि एवं किसान कल्याण राज्य मंत्री पुरूषोत्तम रूपाला ने बताया कि सरकार ने किसानों की आय दोगुना करने से संबंधित मुद्दों…

Read More

भाखड़ा और पोंग बांधों के जलस्तर में ऐतिहासिक गिरावट …गंभीर चुनौती झेलने को तैयार रहें पंजाब, हरियाणा और राजस्थान

भाखड़ा और पोंग बांध में पानी की आवक में भारी गिरावट से दोनों बांधों के जलस्तर में ऐतिहासिक कमी दर्ज की गई है। इसके मद्देनजर इन बांधों से पानी लेने वाले राज्यों पंजाब, राजस्थान और हरियाणा के लिए गंभीर चुनौती खड़ी हो सकती है। भाखड़ा ब्यास प्रबंध बोर्ड के अनुसार भाखड़ा और पोंग बांध में पानी की आवक 19 जुलाई को पिछले साल के इसी दिन की तुलना में क्रमवार 80 और 38 फीसदी कम दर्ज की गई। इस कारण इन दोनों बांधों के जलाशयों में जलस्तर भी पिछले साल…

Read More

चिप्स कंपनियों की पसंद वाला गांव कैंसर की चपेट में… अब होगा सर्वे

कम स्टार्च वाले आलू की खेती के लिए चर्चित और देशी.विदेशी चिप्स कंपनियों की पहली पसंद इंदौर जिले के हरसोला गांव में पिछले पांच साल में कैंसर के 25 मामले सामने आने से प्रशासन के माथे पर बल पड़ गया है। गांव के 15 किसानों की अब तक कैंसर से मौत हो चुकी है, जिसे लेकर प्रशासन ने करीब 9,200 की आबादी वाले गांव का विशेष सर्वेक्षण कराने का फैसला लिया है। गैर सरकारी क्षेत्र के इंदौर कैंसर फाउंडेशन के मानद सचिव दिग्पाल धारकर ने बताया कि हमारे द्वारा सरकारी…

Read More

मोदी सरकार का एक और ‘किसान पटाउ’ कदम, गन्ने का लाभकारी मूल्य 20 रुपये बढ़ाया

चुनावी वर्ष में किसानों पर राहत की बारिश हो रही है। केंद्र सरकार ने एक बार फिर कृषक वर्ग को सुकून देने वाला सामाचार सुनाया है। इस दफा देश के गन्ना किसानों को राहत देने का ऐलान किया गया है। केंद्रीय कैबिनेट ने फसल की कीमत में बढ़ोतरी का फैसला लेते हुए गन्ने का उचित एवं लाभकारी मूल्य यानी एफआरपी 20 रुपये प्रति कुंतल बढ़ा दिया है। नरेंद्र भाई मोदी के कैबिनेट के इस फैसले से गन्ना कीमत 255 रुपये प्रति कुंतल से बढ़कर 275 रुपये प्रति कुंतल हो जाएगी।…

Read More

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया प्रधानमंत्री के प्रयासों की राह का रोड़ा तो नहीं बन रहा…कैसे ?

मलिक असगर हाशमी इसे कहते हैं सरकारी योजना में पलीता लगाना। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी टीम निरंतर इस जुगत में है कि अगले छह-सात वर्षों में किसानों की आमदनी दोगुनी कर दी जाए और कृषि कार्य में आने वाली अधिकांश दिक्कतें दूर कर दी जाएं। मगर सरकार में बैठे कुछ लोग ही मोदी ही की योजना को सिरे चढ़ाने की बजाए राह में रोड़ा अटका रहे हैं। इसका बेहतर और ताजा उदहारण है 18 जुलाई को अखबारों में प्रकाशित स्टेट बैंक ऑफ इंडिया यानी एसबीआई का एक विज्ञापन। देश…

Read More

देश के छह प्रांतों में चावल उत्पादन को लगेगा गहरा धक्का…क्यों-यहां जानें

चावल उत्पादन वाले देश भारत के छह राज्यों में इस बार आशा से बहुत कम चावल पैदा होने का अनुमान है। इसकी मुख्य वजह है बारिश। इस बरसात के मौसम में देश के उत्तर प्रदेश, बिहार, पश्चिम बंगाल, छत्तीसगढ़, ओडिशा और झारखंड में अब तक बेहद कम बारिश हुई है। कृषि मंत्रालय के आंकड़े बताते हैं कि 13 जुलाई तक धान की फसल की 1.17 करोड़ हेक्टेयर में बुवाई हुई है, जो पिछले फसलीय सत्र सें 8 प्रतिशत कम है। पिछले साल समान अवधि में यह आंकड़ा 1.27 करोड़े हेक्टेयर…

Read More

अब कई फ्लेवर में मिलेगी आदिवासियों की शराब…कैसे, यहां पढें

आदिवासियों का प्रिय पेय ‘महुआ’ यानी लोकल मदिरा जल्दी ही अलग.अलग फलों के फ्लेवर में बाजार में मिलने लगेगी। ट्राइबल कॉपरेटिव मार्केटिंग डेवलेपमेंट फेडरेशन आफ इंडिया ;ट्राइफेडद्ध आदिवासियों की वित्तीय सेहत सुधारने के लिए आइआइटी दिल्ली के साथ मिल कर आदिवासियों के इस पेय को तरह.तरह के फ्लेवर के साथ बाजार में उतारने की तैयारी में है। सब कुछ सही रहा और लाइसेंस आदि मिल गया तो तीन चार महीने में ये बाजार में उपलब्ध होगी । ट्राइफेड भारत के आदिवासियों की आर्थिक हालत सुधारने और उनकी आमदनी बढ़ाने के…

Read More

कीटनाशक दवाओं के बाजार में विदेशी माल का बढ़ता दबदबा…किसानों को चुकानी पड़ रही उंची कीमत

राजेश अभय कीटनाशक बनाने वाली कंपनियों के संगठन ने कीटनाशकों के लिए आयात पर बढ़ती निर्भरता पर चिंता जताई है। उसका कहना है कि आयातित कीटनाशकों में प्रयुक्त होने वाली दवाओं के पंजीकरण की आवश्यकता खत्म होने से देश में कीटनाशकों का आयात तेजी से बढ़ा है। इससे घरेलू विनिर्माताओं के लिए समस्या उत्पन्न हुई है और किसानों आयातित रसायन के लिए महंगा दाम चुकाना पड़ रहा है।पेस्टीसाइड मैनुफैक्चरर्स एंड फार्मूलेटर्स एसोसिएशन आफ इंडिया के अध्यक्ष प्रदीप दवे ने कहा कि संप्रग शासनकाल के दौरान वर्ष 2007 में कीटनाशकों में…

Read More