बिहार में पारा 40 के पार, 30 अप्रैल के बाद और गर्मी झेलने को रहें तैयार … जानिए क्यों!

बिहार में तपिश बढ़ गई है। गर्म हवाओं के थपेड़े से लोग बेहाल है। पारा 40 के पार चला गया है। मगर 26 अप्रैल से तीन-चार दिनों के लिए मौसम बदलाने वाला है। तामपान में गिरावट आएगी। अलग बात है कि उसके बाद लू और गर्मी कुछ अधिक परेशान करने वाली है।
राजधानी पटना सहित बिहार के अधिकांश जिलों का अधिकतम तापमान 40 डिग्री के आस पास है। इस रविवार अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। यह सामान्य से तीन डिग्री अधिक था। बिहार के ‘ गर्मस्थल’ गया जिले में गर्मी लोगों को कुछ ज्यादा रूला रही है। यहां न्यूनतम तापमान में लगातार वृद्धि हो रही है। तपिश का दबाव बढ़ गया है। यहां न्यूनतम तापमान सामान्य से तीन-चार डिग्री अधिक दर्ज किया गया। रविवार को बिहार में पूरे दिन गर्म हवाएं चलती रहीं, जिसकी रफ्तार औसतन दस से 12 किमी प्रति घंटा दर्ज थी। रविवार का दिन छुट्टी का होने के कारण अपने घरों से वही लोग निकले जिन्हें आवश्यक काम था। तापमान बढ़ने से सुबह से शाम तक सड़कें सूनी रहीं। मौसम विभाग की मानें तो अभी चल रही गर्म हवाओं को लू की श्रेणी में नहीं रखा जा सकता। मगर गर्मी ने छलांग लगाई है, इसमें कोई शक नहीं।
मौसम विभाग ने 26 अप्रैल के बाद मौसत में तब्दीली के संकेत दिए हैं। साइक्लोनिक सिस्टम में बदलाव के चलते 26 अप्रैल के बाद आंधी, तूफान व गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना के चलते तापमान में गिरावट दर्ज होगी। मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि मौसम में बदलाव का असर 26 अप्रैल से अगले तीन-चार दिनों तक दिखेगा। आसमान में बादल छाए रहेंग। अधिकतम तापमान में गिरावट दर्ज आएगी। मगर तीन-चार दिनों के बाद गर्मी लोगों को कुछ ज्यादा रूलाने वाली है। तापमान 42 डिग्री के पार जाएगा।

Related posts

Leave a Comment