उंची पढ़ाई की, पर झंडे लहरा रहे कृषक बनकर

मलिक असगर हाशमी इंजीनियरिंग, चार्टड एकाउंटेंट, मास कॉम, एमएससी, एमएड जैसी आला डिग्री लेने वाले जब मनपसंद तनख्वाह की नौकरी की चाह में सड़कों पर भटकते रहते हैं, हरियाणा के ऐसे कुछ युवाओं ने ऐसी राह पकड़ी कि आज वे युवा वर्ग के प्रेरणा स्रोत बने हुए हैं। इनकी दूरअंदेशी, व्यापारिक प्रबंधन कौशल और वैज्ञानिक सोंच के आज कृषि, बागवानी और पशुपालन विभाग के अला अधिकारी भी कायल हैं। इन युवाओं ने आला दर्जे की पढ़ाई कर खेती-किसानी अपनाई और लाखों-करोड़ों रूपये में खेल रहे हैं। वे युवाओं को नौकरी…

Read More

दाम न मिलने से जानवरों के आगे फेंके जा रहे हैं टमाटर

मुंबई/नाशिक में 3 रुपए किलो से बिक रहे टमाटरों को जानवरों के आगे डालने को उत्पादक किसान मजबूर है। लागत खर्च भी न निकल पाने से उत्पादक दुखी है। ओलावृष्टि और बैमौसम बारिश से उध्वस्त हुए येवला के पिंपरी गांव अंगूर उत्पादक किसानों ने अंगूर बगानों को हटाकर टमाटर लगाया था। किंतु, दाम न मिलने से आहत किसान टमाटर जानवरों के आगे डाल रहे हैं। बता दें कि क्षेत्र के अन्य किसानों के साथ भगवान ठोंबरे ने अंगूर बगान हटाकर खेत में टमाटर लगाया था। पेठ, सुरगाना से मजदूर बुलाकर…

Read More

सड़ी-गली मछलियां खाकर अब नहीं होंगे बीमार, जांच केलिए किट लांच

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री राधा मोहन सिंह ने सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ फिशरीज टेक्नालॉजी कोच्चि द्वारा विकसित मछलियों में रासायनिक मिलावट या छिडक़ाव का पता लगाने वाली किट (सिफ्टेस्ट) लांच किया गया। मछलियों को जल्दी खराब होने से रोकने और बर्फ में फिसलन खत्म करने के लिए अमोनिया तथा फॉर्मेल्डहाइड का इस्तेमाल किया जाता है। जांच किट से मछिलयों में दोनों रसायनों की उपस्थिति का पता लगाया जा सकेगा। अमोनिया तथा फॉर्मेल्डहाइड के सेवन से मनुष्यों में अनेक स्वास्थ्य संबंधी जैसे, पेट दर्द, वमन, बेहोशी जैसी समस्याएं उत्पन्न होती…

Read More

‘फार्मर मार्केट’ में गुरूग्राम के पॉश इलाके के लोगों को कौन उपलब्ध कराएगा सस्ती और ताजी सब्जियां, यहां जानें…..

खालिस यूरोपियन स्टाइल में दिल्ली से सटे साइबर सिटी के पॉश इलाकों में सुबह-सुबह ताजी और सस्ती सब्जियां उपलब्ध कराई जाएंगी। इस प्रोजेक्ट की सफलता-विफलता को आंकने के लिए रविवार को इस दिशा में किए गए प्रयास बेहद उत्साहवर्धक रहे। इसमें दिल्ली के श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स के छात भी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। योजना का नाम दिया गया है-फार्मर मार्केट। सइबर सिटी से मशहूर गुरूग्राम के पॉश इलाके में सब्जियां बेहद महंगी मितली हैं। किसानों से खरीदी गई सब्जियांें की कीमत बिचौलियों के माध्यम से उन तक पहुंचने…

Read More

जीएसटी में किसानों को राहत, 29 वस्तुएं और 53 सेवाएं सस्ती, देंखें लिस्ट

वस्तु एवं सेवा कर परिषद यानी जीएसटी काउंसिल ने अपनी ताजा बैठक में किसानों को राहत देने की कोशिश की है। हालाकि, उम्मीद इससे कहीं अधिक की थी। माना जा रहा था कि आवश्यक कृषि यंत्रों के अलावा खेती-किसानी से जुड़ी दूसरी वस्तुओंं की खरीद में भी राहत दी जाएगी, पर ऐसा हुआ नहीं। इसके बावजूद किसान थोड़ी राहत से भी प्रसन्न हैं। इकोनॉमिक्स टाइम्स के मुताबिक, जीएसटी काउंसिल की बैठक में बायोडीजल, बॉटल्ड वॉटर, हीरे एवं कीमती रत्नों, शुगर कैंडी, टेलरिंग सर्विसेज, एम्यूजमेंट पार्कों और लो-कॉस्ट हाउजिंग कंस्ट्रक्शन सर्विसेज…

Read More

किसान पुत्र बाबा रामदेव के इस कदम से कॉर्पोरेट घरानों में घबराहट, पतंजलि प्रोडक्ट अब सभी ई-कॉमर्स वेबसाइटों पर

किसान पुत्र योग गुरु रामदेव अब कार्पोरेट जगत के लिए चुनौती बन चुके हैं। पतंजलि का दिनों दिन होते विस्तार से धुरंधर करोबारी घराना घबराहट महसूस करने लगा है। मंगलवार को योग गुरू ने जिस प्रकार ई-कारोबारियों के सामने अपने कारोबारी साम्राज्य का खाका खींचा उसे सुन-समझकर सभी लोग दंग रह गए। पतंजलि ने देश-दुनिया तक अपने प्रोडक्ट पहुंचाने के लिए हरिद्वार से हर द्वार तक अभियान शुरू किया है। इसके लिए उन्होंने तमाम बड़ी आन लाइन कंपनियों से समझौता किया है। पतंजलि आयुर्वेद चाहतजा है कि ई.कॉमर्स वेबसाइटों से…

Read More

आज के दिन असम की चाय पहुंची थी लंदन

मलिक असगर हाशमी केवल भारतीय, चीनी या फिर जापानी ही चाय के दिवाने नहीं हैं। ब्रिटिश नागरिक भी कई सौ साल से इसका जायका लेते आ रहे हैं। अलग बात है,पहले ब्रितानी चीन की चाय की चुस्की लिया करते थे। आज से 200 वर्ष पहले असम चाय के ऐसे मुरीद हुए कि इसी के होकर रह गए। ब्रिटेन में पहली बार असम चाय ने 10 जनवरी 1839 को विधिवत रूप से कदम रखा था। ब्रितानियों को असम चाय नियमित उपलब्ध कराने के लिए आज ही के दिन लंदन में पहली…

Read More

कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने कहा, देश के 54 प्रतिशत पशुधन की नस्ल का चिन्हीकरण बाकी

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री राधा मोहन सिंह ने कहा कि नस्ल पंजीकरण से देश के अपार पशु आनुवंशिक संसाधन तथा उनसे संबंधित ज्ञान व सूचना डॉक्मेंटेशन करने की दिशा में महत्वपूर्ण कदम है। इससे हम अपने आनुवंशिक संसाधनों की इन्वेंटरी तैयार कर सकते हैं। इसका उपयोग आनुवंशिक सुधार, संरक्षण में संभव है। केंद्रीय कृषि मंत्री नई दिल्ली में पशु नस्ल पंजीकरण प्रमाण पत्र पुरस्कार वितरण समारोह में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि देश का लगभग 54 प्रतिशत पशुधन की नस्ल का चिन्हीकरण अभी बाकी है। उन्होंने कहा…

Read More

भारत-पाक के तल्ख रिश्ते से चीनी होगी महंगी

भारत और पाकिस्तान के रिश्तों में हाल के दिनों में इतनी तल्खी आ गई है कि अब हमंे ना चाहते हुए भी महंगी चीनी खाने को तैयार रहना होगा। अगले साल के गन्ना वर्ष में मात्र 15 फीसदी बोवाई होने के बावजूद भारत सरकार ने पाक से सस्ती चीनी आने के रास्ते लगभग बंद कर दिए हैं। पड़ोसी पाकिस्तान अपनी सस्ती चीनी भारत में निर्यात करना चाहता है। अपना उत्पाद खपाने को पाक के सिंध प्रांत की सरकार नेे निर्यात सब्सिडी देने का ऐलान किया है। इंडियन शुगर एसोसिएशन इंडियन…

Read More

वर्ष के अंत तक ब्रॉड बैंड से और जुड़ेंगे देश के डेढ़ लाख गांव

केंद्र सरकार ने इस वर्ष दिसंबर तक भारत नेट प्रॉजेक्ट के दूसरे फेज के तहत देश के 1.5 लाख ग्राम पंचायतों को ब्रॉडबैंड से जोडऩे का लक्ष्य रखा है। इस बारे में टेलिकॉम मिनिस्टर मनोज सिन्हा ने कहा कि दूसरे फेज में समय पर काम पूरा करने पर पुरस्कार भी दिया जाएगा। सरकार का दावा है कि योजना के पहले चरण में एक लाख ग्राम पंचायतों को हाई स्पीड इंटरनेट कनेक्टिविटी उपलब्ध करा दी गई है। टेलिकॉम सेक्रेटरी अरुणा सुंदराजन ने बताया कि फेज 2 का काम शुरू कर दिया…

Read More