K4B1 copy 5

चिप्स कंपनियों की पसंद वाला गांव कैंसर की चपेट में… अब होगा सर्वे Other, कंपनी समाचार, कृषि, ख़बरें, बाजार

कम स्टार्च वाले आलू की खेती के लिए चर्चित और देशी.विदेशी चिप्स कंपनियों की पहली पसंद इंदौर जिले के हरसोला गांव में पिछले पांच साल में कैंसर के 25 मामले सामने आने से प्रशासन के माथे पर बल पड़ गया है। गांव के 15 किसानों की अब तक कैंसर से मौत हो चुकी है, जिसे लेकर प्रशासन ने करीब 9,200 की आबादी वाले गांव का विशेष सर्वेक्षण कराने का फैसला लिया है।
गैर सरकारी क्षेत्र के इंदौर कैंसर फाउंडेशन के मानद सचिव दिग्पाल धारकर ने बताया कि हमारे द्वारा सरकारी स्त्रोतों से जुटाए गए आंकड़ों के मुताबिक हरसोला गांव में पिछले पांच साल के दौरान अलग.अलग अंगों के कैंसर से ग्रसित 25 मरीज पाए गए जिनमें नौ महिलाएं शामिल हैं। इनमें से पांच महिलाओं समेत 15 मरीजों की मृत्यु हो चुकी है।
देश में कैंसर की स्थिति को लेकर किए गए विभिन्न अध्ययनों के आधार पर वरिष्ठ कैंसर सर्जन ने कहा कि कोई ।,800 घरों वाले हरसोला गांव में पिछले पांच साल में सामने आए कैंसर मरीजों की तादाद अनुमान के मुताबिक सामान्य स्तर से लगभग पांच गुना ज्यादा है।
हरसोला इंदौर से करीब 20 किलोमीटर दूर है। मालवा के पठार पर स्थित यह इलाका कम स्टार्च वाले उस आलू की खेती के लिए मशहूर है जो देशी.विदेशी चिप्स कंपनियों को खूब लुभाता है।
धारकर ने बताया कि हरसोला में पिछले पांच साल में कैंसर के जो 25 मामले सामने आए, उनमें मुख और गले के कैंसर के आठ, पेट संबंधी कैंसर के तीन, महिलाओं के गर्भाशय ;युट्रसद्ध से जुड़े कैंसर के पांच और महिलाओं के स्तन कैंसर के तीन मामले शामिल हैं।
इस बीच, इंदौर संभाग आयुक्त ;राजस्वद्ध राघवेंद्र सिंह ने बताया कि मुझे हरसोला गांव के ही एक व्यक्ति ने बताया कि वहां कैंसर के ज्यादा मामले सामने आए हैं। हम इस गांव का विशेष सर्वेक्षण कराने जा रहे हैं, ताकि कैंसर के अन्य मरीजों की पहचान की जा सके और उनका इलाज शुरू कराया जा सके।
उन्होंने बताया कि प्रशासन विचार कर रहा है कि पूरे इंदौर संभाग में कैंसर को लेकर जागरूकता अभियान चलाया जाए।
जिला पंचायत की मुख्य कार्याधिकारी ;सीईओद्ध नेहा मीणा ने बताया कि अलग.अलग सरकारी विभागों के कर्मचारी इंदौर कैंसर फॉउंडेशन की मदद से हरसोला गांव में कैंसर मरीजों की पहचान के लिए विशेष सर्वेक्षण शुरू करेंगे। यह सर्वेक्षण 20 दिन तक चलेगा। सर्वेक्षण रिपोर्ट के आधार पर कैंसर से बचाव की रणनीति बनाई जाएगी।
मीणा ने बताया कि हम स्तन कैंसर के प्रति हरसोला की ग्रामीण महिलाओं के बीच जागरूकता भी बढ़ा रहे हैं।

Leave a Reply