K4B1 copy 5

अब टायर कंपनियां किसानों को झटका देने की तैयारी में….क्योंकि Other, कंपनी समाचार, कृषि, कृषि बाजार विशेष, ख़बरें, बाजार

देेश के किसान चौतरफा मुसीबतों से घिरे हैं। कभी प्राकृतिक आपदा उन्हें परेशानी में डाल देती है तो कभी सरकारी नीतियां उनका दम निकाल देती हैं। डिजल की बढ़ती कीमतों से भी कृषि कार्यों पर विपरीत प्रभाव पड़ा है। रही-सही कसर अब टायर कंपनियां निकालने की तैयारी में हैं। जल्द ही टायरों की कीमत डेढ़ से तीन गुना बढ़ने वाला है। इससे ट्रैक्टरों के टायर और जोत और कटाई में काम आने वाले वाहनों के टायरों की खरीद पर सीधा असर पड़ेगा। आल इंडिया टायर डीलर्स फेडरेशन का कहना है कि कच्चा तेल महंगा होने से टायरों की कीमत बढ़ाने की नौबत आई है। फेडरेशन के संयोजक एस पी सिंह के मुताबिक, तेल की कीमतों में हुई बढ़ौतरी से अंर्राष्ट्रीय बाजार में कार्बन ब्लैक काफी महंगा हो गया है। इसके साथ नायलॉन टायर फैब्रिक, रबर केमिकल्स और स्टील बीड वायर की कमी से भी टायरों की कीमतें प्रभावित हो रही हैं।
टायर डीलर्स कहते हैं कि एमआरएफ, सिएट,कांटिनेंटल, अपोलो और जेके टायर की ओर से उन्हें कीमत में बढ़ौतरी की जानकारी दे दी गई है। यह बढ़ौतरी 1.5 से 3 प्रतिशत तक संभव है। बढ़ौतरी के बाद टायर की कीमत में 300 से 400 रूपये का इजाफा होगा। ठीक-ठाक आमदनी के कार रखने वाले या ट्रांसपोर्टरों को भले इस बढ़ौतरी से खार्स फर्क न पड़े, पर हर सीजन में अपने उत्पाद से माकूल आमदनी नहीं मिलनी की समस्या से जूझ रहे किसानों पर टायर के दाम बढ़ने से खासा प्रभाव पड़ सकता है।

Leave a Reply