खेतों से गायब हो गयी कठिया गेहूं की पैदावार

उत्तर प्रदेश के हमीरपुर समेत समूचे बुन्देलखण्ड क्षेत्र में दैवीय आपदाओं के कहर से कठिया गेहूं के लाले पड़ गये हैं। किसी जमाने में यहां का किसान कठिया गेहूं की पैदावार ही करता था। कम पानी और बिना रसायनिक खाद के पैदा होने वाला लाल रंग का गेहूं (कठिया गेहूं) सेहत के लिये सबसे मुफीद अनाज माना जाता है मगर अब इसकी पैदावार का दायरा सिमट गया है। गेहूं की तमाम प्रजातियां आने के बाद भी औषधीय गुणों की वजह से बुन्देलखण्ड क्षेत्र के कठिया गेहूं की पहचान देश और…

Read More