ड्रोन करेंगे फसलों की निगरानी, जीपीएस नियंत्रित ट्रैक्टर से होगी जुताई

आने वाले समय में फसलों की सेहत की निगरानी स्मार्ट ड्रोन के जरिए और खेतों की जुताई जीपीएस नियंत्रित स्वचालित ट्रैक्टरों से होगी। खेतों में कब और कितना कीटनाशक, उर्वरक का उपयोग करना है तथा मृदा को बेहतर बनाने के तरीके जैसी चीजें की जानकारी सही समय पर किसानों को आसानी से उपलब्ध हो सकती हैं। यह सब कृत्रिम मेधा ;आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस और अन्य संबंधित प्रोद्योगिकी के उपयोग से संभव होगा। नीति आयोग ने कृत्रिम मेधा के लिए राष्ट्रीय रणनीति पर जारी परिचर्चा पत्र में कहा है कि कृत्रिम मेधा…

Read More