यमुना के तटवर्ती गांवों की फसलों को भारी नुक्सान….उम्मीद से कम उत्पादन का अनुमान ….क्यों, यहां जानें

यमुना उफान पर है। उफनती नदी का पानी कई जिलों के तटवर्ती गांवों में घुस गया है। इसे लेकर किसान हैरान-परेशान हैं। जब-जब यमुना का रौद्र रूप सामने आता है खेती-किसानी की दशा खराब हो जाती है। इस बार भी तटवर्ती गांवों में फसलों के उत्पादन पर ग्रहण लगने का अनुमान है। युमना में आई बाढ़ के चलते हरियाणा के युनानगर, सोनीपत, फरीदाबाद, पलवल आदि के तटवर्ती गांवों में अंदर तक पानी घुस आया है। खेत डूब गए हैं और खेत रेतीली मिट्टी से पट गए हैं। हथनी कुंड बैराज…

Read More

मध्य प्रदेश के किसानों के लिए लगाई जा रही ‘पाठशाला’….क्यों, यहां जानें

मध्य प्रदेश में किसानों के लिए पाठशाला लगाई जा रही है। वे उन्नत खेती के गुर सीख सकें, इसके लिए ‘किसान खेत पाठशाला’ नाम से कार्यक्रम शुरु किया गया है, जिसका पहला चरण 20 जुलाई को पूरा हो गया। अब दूसरे चरण की ‘क्लास’ लगाने की तैयारी है। दरअसल, इसके पीछे शिवराज चौहान सरकार की मंशा है, मध्य प्रदेश के किसान परंपरागत खेती की बजाए उन्नत और आधुनिक खेती पर जोर दें, ताकि कृषि और सूबे के किसानों की दशा और दिशा सुधार सके। किसान खेत पाठशालाएं पहले चरण में…

Read More

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बनेंगे ‘किसान रत्न’ …कैसे, यहां जानें

मलिक असगर हाशमी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को आगामी चुनावों में ‘किसान रत्न’ के तौर पर पेश करने की तैयारी है। इसके लिए भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश इकाइयों की बैठकों में प्रस्ताव पास कराने का क्रम शुरू हो गया है। भारत में मोदी जैसा कोई और नहीं, यह जताने के लिए केंद्र की ओर से खरीफ फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में 200 रूपये प्रति कुंतल इजाफा करने के ऐलान के साथ भाजपा शासित प्रदेशों की ओर से राष्ट्रीय समाचार पत्रों में विज्ञापन देकर ‘मोदी वंदन’ की होड़ मची है।…

Read More

‘फार्मर मार्केट’ में गुरूग्राम के पॉश इलाके के लोगों को कौन उपलब्ध कराएगा सस्ती और ताजी सब्जियां, यहां जानें…..

खालिस यूरोपियन स्टाइल में दिल्ली से सटे साइबर सिटी के पॉश इलाकों में सुबह-सुबह ताजी और सस्ती सब्जियां उपलब्ध कराई जाएंगी। इस प्रोजेक्ट की सफलता-विफलता को आंकने के लिए रविवार को इस दिशा में किए गए प्रयास बेहद उत्साहवर्धक रहे। इसमें दिल्ली के श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स के छात भी महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं। योजना का नाम दिया गया है-फार्मर मार्केट। सइबर सिटी से मशहूर गुरूग्राम के पॉश इलाके में सब्जियां बेहद महंगी मितली हैं। किसानों से खरीदी गई सब्जियांें की कीमत बिचौलियों के माध्यम से उन तक पहुंचने…

Read More