हरियाणा सरकार ने नीदरलैंड के वागेनिनजेन विश्वविद्यालय से किया करार…खेती-किसानीं को क्या होगा लाभ यहां पढ़ें

प्रदेश में बागवानी क्षेत्र को विकास की बुलंदियों तक पहुंचानेे और फसलों के अवशेषों के बेहतर प्रबंधन की खातिर हरियाणा सरकार ने महत्पूर्ण पहल की है। इसने कृषि-बागवानी के लिए विश्व में टॉप यूनिवर्सिटी माने जाने वाली नीदरलैंड के वागेनिनजेन विश्वविद्यालय के साथ इसपर काम करने का खाका तैयार किया है। सूबे के दो विश्वविद्यालयों हिसार के चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय और करनाल के महाराणा प्रताप बागवानी विश्वविद्यालय, वागेनिनजेन विश्वविद्यालय के साथ राज्य में संरक्षित बागवानी और फसल अवशेष व बायोमास प्रबंधन विकसित करने के उद्देश्य से संयुक्त…

Read More