एक से 10 जून तक शहरों में दूध, सब्जी सप्लाई बंद रहने की खबर सही है….यहां जाने क्यों

देश के किसानों के दस दिनों तक राष्ट्रीयव्यापी हड़ताल पर रहने की खबर सही है। इसके लिए तारीख की घोषणा कर दी गई है। एक से 10 जून तक भारत के किसान देशव्यापी हड़ताल पर रहेंगे। इस दौरान शहरों में दूध, सब्जी की सप्लाई बंद रहेगी। बंद पर रणनीति तय करने को किसान संगठनों की एक आवश्यक बैठक 18 अप्रैल को दिल्ली में होने जा रही है।
पहले किसानों के देशव्यापी पहड़ताल को अफवाह मानकर खारिज कर दिया गया था। आम लोग इसे दस अप्रैल की अगड़ों की हड़ताल की तरह सोशल मीडिया का खुराफात मान रहे थे। मगर अब स्पष्ट हो गया कि देश के किसान एक से 10 जून तक राष्ट्रव्यापी हड़ताल पर रहेंगे। चंडीगढ़ से प्रकाशित दैनिक ट्रिब्यून में छपी खबर की मानंें तो भारतीय किसान यूनियन ने हड़ताल की पुष्टि कर दी है। हड़ताल की घोषणा 18 अप्रैल को दिल्ली की बैठक में की जानी थी। मगर मध्य प्रदेश के एक किसान नेता ने अति उत्साह में आकर बैठक से पहले ही इस खबर को सोशल मीडिया पर डाल दिया। भारतीय किसान यूनियन हरियाणा के प्रदेश अध्यक्ष सेवा सिंह आर्य ने बताया कि हड़ताल के बारे में उत्तर और मध्य भारत के राज्यों के 65 किसान नेताओं ने 25 फरवरी को चंडीगढ़ के किसान भवन में बैठक कर निर्णय लिया था। कहा गया था कि सरकार से बारबार टकराने की बजाए किसान अपनी उपज एक से दस जून तक रोक कर सरकार को अपनी ताकत का एहसास कराएं। पानीपत के किसान नेता रतन मान सिंह का कहना है कि हड़ताल को लेकर सोशल मीडिया पर प्रचार तो चल रहा है, पर पूरी जानकारी 18 अप्रैल की बैठक के बाद ही आपाएगी।

Related posts

Leave a Comment