डिजिटल बैंकिंग के बारे में किसानों को जागरुक करेगी रुचि सोया इंडस्ट्रीज

किसानों के बीच डिजिटल बैंकिंग को बढ़वा देने और इससे संबंधित व्याप्त भ्रांतियां दूर करने केलिए रुचि सोया इंडस्ट्रीज लिमिटेड आगे आई है। इस बारे में आंध्र प्रदेश के काकीनाड़ा के पास सिंगपल्ली गांव में एक जागरूकता शिविर आयोजित किया गया। ऐसे ही शिविर आठ अन्य प्रदेशों में लगाए जाएंगे।
नोटबंदी के दौरान लेन-देन को लेकर किसानों को काफी दिक्कतें आई थीं। डिजिटल लेन-देन का तरीका मालूम नहीं होने से उनकी परेशानियां और बढ़ गई थीं। हालांकि, कैश में लेन-देन सामान्य हो चुका है, इसके बावजूद किसानों के बीच इसकी चुनौतियां अभी भी बनी हुई हैं।
आंध्र प्रदेश के किसानों की मदद केलिए रुचि सोया आगे आई है। इसके साथ कंपनी किसानों के बैंक खाते खुलवाने में भी सहायता कर रही है ताकि वे अपने बैंक खातों से ऑनलाइन भुगतान कर सकें।
रुचि सोया इंडस्ट्रीज लिमिटेड के संस्थापक और प्रबंध निदेशक दिनेश शहारा ने कहा कि उनकी कंपनी हमेशा सकारात्मक परिवर्तन के कार्यों में सक्रिय रही है। कंपनी का लक्ष्य डिजिटल बैंकिंग जागरूकता शिविरों के माध्यम से 30 हजार से अधिक पाम वृक्षारोपण भी है। समाचार एजेंसी एएनआई की एक खबर में कहा गया है, शिविर में एसबी श्रीनिवास राव, चीफ मैनेजर, कृषि विकास शाखा, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, पेद्दापुरम ने बैंकिंग लेनदेन के लिए मोबाइल एप्लिकेशन के उपयोग के बारे में किसानों को बताया। उन्होंने कहा कि किसान अब अपने मोबाइल फोन से बैंकिंग कर सकते हैं। पाम तेल प्रसंस्करण में अग्रणी रुचि सोया देश के 10 मिलियन से अधिक किसानों से जुड़ी है। कंपनी आंध्र प्रदेश के अलावा तेलंगाना, कर्नाटक, तमिलनाडु, मिजोरम, गुजरात, ओडिशा, छत्तीसगढ़ और अरुणाचल प्रदेश में भी डिजिटल बैंकिंग जागरूकता शिविर लगाएगी।
——-

Related posts

Leave a Comment