रामनवमी पर योगी सरकार का किसानों को तोहफा, एक लाख रुपये तक के कर्ज माफ

चरमराई अर्थव्यवस्था के बीच विधानसभा चुनाव के समय कर्ज माफी के अपने वादे को निभाते हुए उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार ने रामनवमी पर किसानों को बड़ा तोहफा दिया है। योगी आदित्यनाथ के मंत्रिमंडल की पहली बैठक में कर्ज माफी का ऐलान किया गया। लघु एवं सीमांत किसानों को एक लाख रुपये तक की राहत दी गई है।
यूपी के चुनाव प्रचार के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और योगी आदित्यनाथ ने लघु एवं सीमांत किसानों को पूर्ण कर्ज काफी का भरोसा दिया था। इसे ध्यान में रखते हुए उन्हें बड़ी राहत दी गई। वैसे तो पूर्व कर्ज माफ नहीं किया गया। इसके बावजूद इससे किसानों को बड़ी राहत मिलेगी।
उत्तर प्रदेश में तकरीबन ढाई करोड़ लघु एवं सीमांत किसान हैं, जिनपर विभिन्न बैंकों का करीब 62 हजार करोड़ रुपये बकाया है। मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने अपनी पहली कैबिनेट की बैठक में 36 हजार करोड़ रुपये का कर्ज काफ करने का ऐलान किया है। इससे सरकार पर 25 हजार करोड़ रुपये का अतिरिक्त भार पड़ेगा। बैंकों को किसानों के कर्ज का भुगतान प्रदेश सरकार करेगी। यूपी में नई सरकार बनने के साथ केंद्रीय कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने खुलासा किया था कि कर्ज माफी की बात यूपी भाजपा के घोषणा पत्र में है। इसलिए कर्ज माफी का इंतजाम भी प्रदेश सरकार को ही करना होगा। खास, बात यह कि यूपी की चरमराई अर्थव्यवस्था के बीच सरकार का यह फैसला सराहनीय नहीं है। उत्तर प्रदेश के कृषि मंत्री सूर्य प्रताप ने इसे ऐतिहासिक फैसला बताया है। उनका कहना है कि इससे किसानों को कर्ज के बोझ से बहुत हद तक आजादी मिलेगी।

Related posts

Leave a Comment