46 किस्म के दो लाख ट्यूलिप देखने हैं तो पहुंच जाएं कश्मीर

फूलों की खेती केलिए प्रेरणा तथा एशिया का सबसे बड़ा ट्यूलिप उद्यान कश्मीर में रविवार को पर्यटकों के लिए खोल दिया गया। पहले दिन बड़ी संख्या में पर्यटक खुशनुमा माहौल का लुत्फ उठाने पहुंचे। पूरे दिन लोग फूलों के बीच टहलते रहे। उद्यान पंद्रह दिनों तक खुला रहेगा।
श्रीनगर में जबरवान पहाड़ी की तलहटी में स्थित इंदिरा गांधी मेमोरियल ट्यूलिप गार्डन का जलवा प्रसिद्ध डल झील की खूबसूरत को भी फीका कर देता है। एक समाचार एजेंसी की खबर में कहा गया है कि 15 हेक्टेयर क्षेत्र में फैले बगीचे में 46 किस्म के दो लाख से अधिक ट्यूलिप लगे हैं। अप्रैल में फूलों का यह गुलदस्ता घाटी के वातावरण को बेहद सुंदर बना देता है।
ट्यूलिप फूल की औसत जीवन अवधि तीन से चार सप्ताह होती है। भारी बारिश या कड़ी गर्मी फूलों को नष्ट कर देती है। पहले ट्यूलिप उद्यान सिराज बाग के नाम से जाना जाता था। 2008 में तत्कालीन मुख्यमंत्री गुलाम नबी आज़ाद ने इसे आमजन केलिए खोल दिया।
—-

Related posts

Leave a Comment