कलाम के सहयोगी बोले, प्रदूषण दूर करना है बढ़ाएं हरित रसायन का इस्तेमाल

मिसाइल मैन पूर्व राष्ट्रपति डॉक्टर एपीजे अब्दुल कलाम के सहयोगी तथा रक्षा अनुसंधान के वरिष्ठ वैज्ञानिक रहे मानस बिहारी वर्मा की मानें तो ‘हरित रसायन’ से प्रदूषर्ण की समस्या दूर की जा सकती है। अभी इसके चलते देश-दुनिया परेशान हैं, पर वर्मा ने हरित रसायन को आधुनिक विज्ञान का महत्वपूर्ण विषय बताते हुए कहा कि वर्तमान दौर में प्रदूषित वातावरण को मानव जीवन के अनुकूल बनाने के लिए यह काफी महत्वपूण हो गया है। श्री वर्मा विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के सहयोग से बिहार के दरभंगा के महाराजा लक्ष्मेश्वर सिंह मेमोरियल कॉलेज में वातावरण को मानव जीवन के अनुकूल बनाने में हरित रसायन कितना महत्वपूर्ण विषय पर आयोजित तीन दिवसीय संगोष्ठी के उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि हरित रसायन का महत्व मानव जीवन में अब अधिक महसूस किया जा रहा है। औद्योगिक विकास से वातावरण पर हो रहे दुष्प्रभाव से इसकी जरूरत अधिक बढ़ गई है। विशेषकर दिल्ली-एनसीआर से लगते ग्रामीण इलाकों पर जिस तरह प्रदूषण फैलाने का आरोप लग रहा है, ऐसे में किसानों के माध्यम से ही हरित रसायन का अधिक उपयोग कर इस समस्या से मुक्ति पाई जा सकती है।

Related posts

Leave a Comment